कोर्ट के फैसले से हमें क्या लेना-देना- नृत्यगोपाल

मथुराः- (D.J) राम जन्मभूमि न्याय के अध्यक्ष मंहत नृत्य गोपाल दास महाराज ने कहा है कि कोर्ट जो भी फैसला दे उससे हमें क्या लेना-देना ৷संभावित निर्णय की अनुकूलता एंव प्रतिकूलता से कतई निशचिंत है৷ जो कुछ होना था हो चुका है৷ श्रीराम अयोध्या में विराजमान है, पूजा-सेवा चल रही है৷ और अनवरत चलती रहेगी ৷ लड़ाई-झगड़ा करना हमारा काम नहीं है৷ भारी तादाद में रक्षक बल तैनात करना और झगड़े फसाद रोकना सरकार की जिम्मेदारी है৷ श्रीकृष्ण जन्मोत्सव में शामिल होने आये श्रीमहंत ने यह बात जागरण से करते हुये कहीं৷
न्यास अध्यक्ष ने कहा कि हनुमत भत्त्कि के माध्यम से वे सभी को सदबुद्वि देने की प्रार्थना भगवान से कर और करा रहे है৷ मुस्लिम संप्रदाय का जन्म होने से पहले भी श्रीराम अयोध्या में विराजमान थे और आज भी वहीं है৷ आगे भी रहेंगे ৷ उनकी जन्मभूमि का कोई विवाद है ही नही৷ जब समय आया जो होना था पहले हो चुका है৷ आगे जब समय आयेगा मंदिर की दिव्यता-भव्यता का कार्य हो जाएगा ৷ सभी कार्य प्रभु की मर्जी से हुये है और आगे भी होते रहेंगे৷ रक्षक तैनाती के सरकारी कदम से भी उन्हें कोई लेना-देना नहीं है৷ झगड़े होते है तो उन्हें रोकना सरकार का दायित्व है৷ झगड़ा-झंझट से कोई मतलब नहीं है৷ कोर्ट जो निर्णय सुनाए हमें कुछ नहीं करना ৷ श्रीकृष्ण जन्मोत्सव तिथि के संशय पर महाराज ने कहा कि ये हर साल होता है৷ स्मार्त नक्षत्रका और वैष्णव उदया तिथि का आश्रय लेते है৷ वैष्णवों की जन्माष्टमी गरूवार की है और वे संत गुरूशरणानंद महाराज के साथ गुरूवार को प्रतः 10 बजे प्रवचन, पुष्पांजलि अर्पण तथा रात्रि में भगवान का अभिषेक करेंगे৷ जंक्शन मार्ग स्थित राम मंदिर पर हुई इस बातचीत के समय अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के जिला महामंत्री इं० महेद्र सिंह शर्मा एवं कई संत-सेवक मौजूद थे৷

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *