सार्वजनिक स्थलों पर चल रहे लाउडस्पीकरों पर कसेगा शिकंजा

– 15 जनवरी को नोटिस के बाद 20 जनवरी तक उतारने का किया एलान
वृन्दावन, 12 जनवरी 2017, (VT) इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेशानुसार सार्वजनिक स्थानों पर चलने वाले धार्मिक एवं व्यावसायिक प्रचारों के लाउडस्पीकरों पर प्रशासन द्वारा शिकंजा कंसने जा रहा है। प्रशासन ने एलान किया है कि 15 जनवरी को नोटिस के बाद 20 जनवरी तक इन्हें उतार दिया जाएगा। सभी तहसीलों में थानावार अवैध लाउडस्पीकरों का चिह्नीकरण किया जा रहा है।
सभी धार्मिक स्थलों तथा सार्वजनिक स्थलों पर, जहां स्थायी रूप से लाउडस्पीकर लगे हैं, वहां प्रशासन द्वारा गठित टीमें जाकर सर्वे करेंगी कि यहां लगे लाउडस्पीकर बिना अनुमति के तो नहीं चलाए जा रहे। ऐसे सभी धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर के लिए यदि 15 जनवरी तक स्वीकृति का आवेदन आ जाता है तो नियमानुसार होने पर उनको अनुमति प्रदान की जाएगी, अन्यथा उन्हें हटा दिया जाएगा।
यदि संबंधित प्रबंधकों ने अनुमति नहीं ली तो उनके विरुद्ध ध्वनि प्रदूषण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी। साथ ही बिना अनुमति चल रहे लाउडस्पीकरों को 20 जनवरी तक हर हाल में उतरवाया जाएगा। जुलूस और बारातों में लगे लाउडस्पीकरों पर भी सख्ती होगी। एडीएम प्रशासन आदित्य प्रकाश श्रीवास्तव ने बताया कि गठित की गई टीमों से उनके यहां की रिपोर्ट मंगाई जा रही है। DKS

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *