भोग, राग और श्रृंगार के सेवा-भाव से खास ब्रज का बसंत

- 5 शताब्दियों की सांस्कृतिक यात्रा ने सहेजे ब्रज- बसंत के संदर्भ - वृंदावन शोध संस्थान के बसंतोत्सव से बढ़ रही लोगों की जिज्ञासा - विद्यार्थी और संस्कृति प्रेमियों का लग रहा तांता वृन्दावन, वृन्दावन शोध संस्थान के बसन्तोत्व-2019 की प्रदर्शनी मूर्त एवं अमूर्त संदर्भों में बसंत’ कई मायनों में खास है। यहां न केवल शोध अध्येताओं बल्कि … [आगे पढ़ें...]

बसंतोत्सव-2019 में आयोजित बाल बसंत गोष्ठी में 200 विद्यार्थियों ने दी प्रस्तुति

वृन्दावन, वृन्दावन शोध संस्थान में बसंतोत्सव-2019 के अन्तर्गत लगायी गयी दस दिवसीय प्रदर्शनी निरंतर लोगों को अपनी ओर आकृष्ट कर रही है। प्रदर्शनी में शनिवार को सातवें दिन तीन विद्यालयों के लगभग 200 विद्यार्थियों ने संस्थान द्वारा आयोजित बाल बसंत गोष्ठी में सहभागिता की। इस दौरान पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को संस्थान के समस्त … [आगे पढ़ें...]

मूर्त एवं अमूर्त संदर्भों में बसंत प्रदर्शनी का महापौर ने किया अवलोकन

  —वृन्दावन शोध संस्थान में बसंतोत्सव पर दस दिवसीय प्रदर्शनी का हो रहा आयोजन  वृन्दावन, वृन्दावन शोध संस्थान में चल रहे दस दिवसीय बसंतोत्सव-2019 के अन्तर्गत आयोजित प्रदर्शनी ‘मूर्त एवं अमूर्त संदर्भों में बसंत’ लोगों को अपनी ओर आकृष्ट कर रही है। गुरूवार को मथुरा-वृन्दावन नगर निगम के महापौर डाॅ.मुकेश आर्यबन्धु सहित पार्षदगणों … [आगे पढ़ें...]

वृन्दावन शोध संस्थान में छाई बसंत की छठा

- ब्रजभाषा साहित्य और संस्कृति में बसंत संगोष्ठी में अध्येताओं ने रखे विचार - बसंतोत्सव-2019 में बह रही बसंत की बयार - समाज गायन से झंकृत हुआ वृन्दावनी बसंत वृन्दावन, वृन्दावन शोध संस्थान में चल रहे दस दिवसीय बसंतोत्सव-2019 के आयोजन के अन्तर्गत मंगलवार को ब्रजभाषा साहित्य एवं संस्कृति में बसंत विषयक संगोष्ठी तथा समाज गायन का आयोजन … [आगे पढ़ें...]

वृन्दावन शोध संस्थान में हुआ बसंतोत्सव-2019 का शुभारंभ

- ‘मूर्त एवं अमूर्त संदर्भों में बसंत’ प्रदर्शनी आमजन के लिए आरंभ - ‘स्वामी दामोदरदास ग्रंथावली’ का हुआ लोकार्पण - ब्रजभाषा साहित्य और संस्कृति में बसंत शीर्षक संगोष्ठी 12 फरवरी को वृन्दावन, वृन्दावन शोध संस्थान में बसंतोत्सव के अवसर पर ‘मूर्त एवं अमूर्त संदर्भों में बसंत’ विषयक दस दिवसीय प्रदर्शनी, का शुभारंभ राधाबल्लभ … [आगे पढ़ें...]

खिचड़ी महोत्सव में राधावल्लभ लाल बने सांवरी सखी, भक्त दर्शन कर निहाल

- भोरि भए सहचरि सब आई, यह सुख देखत करत बधाई...कोऊ बीना सारंगी बजावै, कोऊ इक राग विभासहि गावैं। - सर्दी के मौसम में विभिन्न मेवा तथा मसालों से युक्त खिचड़ी राधावल्लभलाल को अतिप्रिय है। वृन्दावन, 19 जनवरी 2018, (VT) खिचड़ी महोत्सव में प्रसिद्ध ठा. राधावल्लभ मंदिर में नित प्रतिदिन नए-नए रूपों में दर्शन देकर ठा. राधावल्लभ लाल अपने भक्तों को … [आगे पढ़ें...]

श्रीराम मंदिर निर्माण आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले विष्णुहरि डालमिया का निधन

- बाबरी ढांचा ढहाए जाने के बाद सरकारी पक्ष की ओर से दर्ज कराए गए मामले में थे सह-अभियुक्त वृन्दावन, 17 जनवरी 2018, (VT) रामजन्म भूमि आन्दोलन के प्रमुख नेताओं में से एक, विश्व हिन्दू परिषद के पूर्व अध्यक्ष एवं वर्तमान में वरिष्ठ सलाहकार विष्णुहरि डालमिया का लंबी बीमारी के बाद बुधवार को निधन हो गया। वह 91 वर्ष के थे। यह जानकारी श्रीकृष्ण … [आगे पढ़ें...]

आज परम पूज्य सिद्ध सन्त श्रीकृपासिन्धुदास जी महाराज(भागवत निवास) के तिरोभाव महोत्सव पर विशेष :

श्री वृंदावन धाम, भागवत निवास ट्रस्ट के संस्थापक परम सिद्ध बाबा श्री कृपासिंधु दास जी महाराज, जिन्होंने सिद्ध पंडित बाबा श्री रामकृष्ण दास जी महाराज की अद्भुत सेवा की । श्रीकृपासिन्धुदास बाबा का जन्म वर्तमान बंगाल के चट्ट गाँव में सम्वत २०३७(वर्ष 1881) में एक सम्पन्न ब्राह्मण परिवार में हुआ। बाबा ने मात्र 17 वर्ष की अवस्था में … [आगे पढ़ें...]

चैतन्य महाप्रभु ने आज ही के दिन किया था सन्यास ग्रहण 

-आज मकर संक्रांति के महापर्व पर विशेष :  वृन्दावन, गौड़ीय वैष्णवों के लिए आज का दिन इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि हम सभी को भवसागर से पार कराने के लिए अवतरित हुए दया के सागर श्रीमन चैतन्य महाप्रभु ने आज ही के दिन श्रील केशव भारती द्वारा कटवा (काटोया) नामक स्थान पर सन्यास ग्रहण किया था। वैसे तो भगवान श्री चैतन्य हर तरह से स्वतंत्र हैं … [आगे पढ़ें...]

खिचड़ी का सांस्कृतिक विस्तार : खिचरी उच्छव

- डॉ राजेश शर्मा, वृन्दावन   वृन्दावन (VT) 14 जनवरी, 2019 : " उत्सव " शब्द के साकार रूप अथवा यूँ कहें कि इसके उत्स को समझना है , तो वृन्दावन से उचित कोई स्थल सहजता से नहीं दिखता। वास्तव मे इस पवित्र भूमि पर भक्ति और मुक्ति के साथ ही प्रकृति ने स्वंय को जिस साकारता के साथ प्रस्तुत किया है,वह स्यामा- स्याम की नित्य विहार स्थली श्री धाम … [आगे पढ़ें...]